blogging tips & tricks

What Is Dofollow And Nofollow Backlinks

हेलो hindipro में आपका स्वागत है। आज हम बतानेवाले है कि What Is Dofollow And Nofollow Backlinks अगर आप भी यह जानना चाहते है तो आप बिलकुल सही पोस्ट पढ़ रहे है। यह सब हम आपको सरल शब्दो मे समझानेवाले है।

जब हम बात seo (search engine optimization) की करते है तो dofollow और nofollow लिंक बहुत रोल रखती है।

मान लीजिए अगर आप एक नए ब्लॉगर है और अपने एक नई वेबसाइट बनाई है तो सर्च इंजन को कैसे पकता चल जाएगा कि आपकी कोई साइट है। इसके लिए आपको अपनी साइट को सर्च इंजन में सब्मिशन करना होगा। उसके बाद गूगल सर्च इंजन आपके साइट को इंडेक्स करेगा।

आप गूगल को बता सकते है कि कोनसे पेज को इंडेक्स करना है और कोनसे पेज को नोइंडेक्स। आज के इस पोस्ट में हम dofollow और nofollow लिंक्स के बारे में बात करेंगे।

Dofollow और Nofollow लिंक्स क्या है :

Dofollow और Nofollow के बारे में जानने से पहले हमें लिंक जूस के बारे में जानना चाहिए।

Link Juice : जब आप किसी वेबसाइट को दूसरी वेबसाइट पर सब्मिट करते हो जिसे गूगल लिंक को फॉलो करता है तो उसे link juice कहा जाता है। किसी वेबसाइट की रैंकिंग में लिंक जूस का मेन रोल होता है और इससे डोमेन ऑथोरिटी भी इम्प्रूव होती है।

Dofollow Link : जब हम गूगल या दूसरे सर्च इंजन को लिंक फॉलो करने को कहते है तो हमे लिंक जूस और बैकलिंक मिलता है।

जब हम वेबसाइट का बैकलिंक बनाते है तो हमे high search वाले कीवर्ड को टारगेट करना चाहिए और फिर anchor टेक्स्ट बनाना चाहिए।

Nofollow Link : Nofollow लिंक का मतलब Dofollow लिंक से अपोजिट है। Nofollow लिंक गूगल या किसी भी सर्च इंजन को लिंक फॉलो करने का परमिशन नही देते। सिर्फ यूजर इस लिंक पर क्लिक करके आपकी साइट पर पहुच जाएगा। Nofollow लिंक से रैंकिंग इम्प्रूव नही होती है।

Dofollow लिंक के लिए कोई कोड लिखने की जरूरत नही होती बल्कि सभी हाइपर लिंक Dofollow होते है। लेकिन Nofollow लिंक के लिए rel=”nofollow” ऐड करना होता है।

Conclusion

हेलो दोस्तो अगर यह पोस्ट आपको पसंद आये तो इसे शेयर करे और इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बताये।